Follow us on Facebook

Romance Ke Liye Girlfriend & Boyfriend In Hindi Shayari 2017

Romance Ke Liye Girlfriend & Boyfriend In Hindi Shayari 2017
Romance Ke Liye Girlfriend & Boyfriend In Hindi Shayari 2017


आँखो की चमक पलकों की शान हो तुम,
चेहरे की हँसी लबों की मुस्कान हो तुम,
धड़कता है दिल बस तुम्हारी आरज़ू मे,
फिर कैसे ना कहूँ मेरी जान हो तुम..


ये दिल न जाने क्या कर बैठा,
मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा,
इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता,
और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा!


इस दिल को किसी की आस रहती है,
निगाहों को किसी सूरत की प्यास रहती है,
तेरे बिना किसी चीज़ की कमी तो नही,
पर तेरे बेगैर जिन्दगी बड़ी उदास रहती है..


जब कोई ख्याल दिल से टकराता है!
दिल न चाह कर भी, खामोश रह जाता है!
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है!
कोई कुछ न कहकर भी, सब बोल जाता है!


तेरी चुप्पी का सबब हम जानते है ,
लरज़ते होंठों की शिकायत हम जानते है ,
मेरी हिचकी भी दे रही है गवाही मुहब्बत की,
तेरे पलकों की हरकत भी हम जानते है ।


खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं.


जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,
दिल ना चाह कर भी खामोश रह जाता है,
कोई सब कुछ कह कर प्यार जताता है,
तो कोई कुछ ना कह कर प्यार निभाता है।


लम्हें ये सुहाने साथ हो ना हो ,
कल मे आज जैसी बात हो ना हो ,
आपका प्यार हमेशा इस दिल में रहेगा,
चाहे पूरी उम्र मुलाकात हो ना हो..


शायर तो हम है शायरी बना देंगे,
आपको शायरी मे क़ैद कर लेंगे,
कभी सुनाओ हमें अपनी आवाज़,
आपकी आवाज़ को हम ग़ज़ल बना देंगे..


प्यार क्या होता है हम नहीं जानते,
ज़िन्दगी को हम अपना नहीं मानते,
गम इतने मील के एहसास नहीं होता,
कोई हमें प्यार करे अब विश्वास नहीं होता.

तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चलेगा, कि इंतजार क्या होता है..
यूं ही मिल जाए, कोई बिना चाहे, तो कैसे
पता चलेगा, कि प्यार क्या होता है..


ज़िन्दगी मिलती हैं एक बार
मौत आती हैं एक बार
दोस्ती होती हैं एक बार
प्यार होता हैं एक बार
दिल टूटता हैं एक बार
जब सब कुछ होता हैं एक बार
तो फिर आपकी याद क्यों आती हैं बार बार!!


Romance Ke Liye Girlfriend & Boyfriend In Hindi Shayari 2017 Romance Ke Liye Girlfriend & Boyfriend In Hindi Shayari 2017 Reviewed by Bhagyesh Chavda on April 23, 2017 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.