Follow us on Facebook

Miss You Love Poem – तेरी यादों में

Miss You Love Poem – तेरी यादों में


तुझे भूल कर भी ना भूल पायेगे हम 
बस यही एक वादा निभायेंगें हम 
मिटा देंगे ख़ुद का जहाँ से लकिन तेरा नाम 
दिल से ना मिटायेंगे हम 
आज भी तेरी आवाज़ गुंजती है मेरे कानो में 
लिखे है हजारो खत तुम्हे अन्जाने मे 
कहते है ये सारे खत नहीं ये कवितायें है 
कम्बखत शायर बन गया हूँ तेरी यादों में 
खैर दुनिया लगती है खलासी हर मौसम में 
पर यकीन है मुझे मैं तन्हा नहीं हूँ तेरी यादों में

– इन्द्रजीत मनियारे
Tujhe bhul kr bhi Na bhul payenge hum, 
Bas yahi ek vada nibhayenge hum, 
Mita denge khudka jaha se lekin tera naam 
DIL se Na Mita payenge hum, 
Aaj bhi teri aawaj gunjati hai mere Kano me, 
Likhe hai hajaro khat tumhe anjane mai,
Kahete hai ye sare khat nahi, Ye kavitaye hai,
Kambaqht shayar ban gaya hu Teri yado mai,
Khair Dunia to lagti hai ab khalisi har mausam mai, 
Pr yakin hai mujhe mai tanha nahi hu Teri yado mai

-Indrajeet Maniyare
Miss You Love Poem – तेरी यादों में Miss You Love Poem – तेरी यादों में Reviewed by Bhagyesh Chavda on March 20, 2017 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.