Follow us on Facebook

Ads Top

Ankho se Apne Ashak Bahaya na Kro


आँखों से अपने अश्क बहाया न करो,
बेकार अपना नूर गँवाया न करो,
गुम-सुम उदास रहने से कुछ लाभ नहीं,
तिल-तिल के अपना आप मिटाया न करो !


You May Be More Shayari

No comments:

Powered by Blogger.