Follow us on Facebook

Ads Top

21 Real Attitude Shayari With Life Quotes To Express Love And Anger


21 Real Attitude Shayari With Life Quotes


बहुत ही नाजो से चूमा उसने लबो को मेरे मरते वक्त.. कहने लगी मंजिल आखिरी है रास्ते मेँ कहीँ प्यास न लग जाए...!! 


साहिल के सुकून... से किसे इनकार है लेकिन, तूफ़ान से लड़ने में मज़ा ही कुछ और है... 

दोस्त शादी के अगले दिन अचानक अपनी बीवी को पीटने लगा... लोगों ने पूछा तो बोला... इसने मेरी चाय में ताबीज़ डाला है मुझे बस में करने के लिए ! बीवी रोते हुए गुस्से में बोली,--- वो ताबीज़ नहीं Tea Bag है गंवार . 

वह दिन कभी ना आये, हद से ज्यादा अभिमान हो जाये, बस इनता ही नीचा रखना मेरे खुदा, कि हर दिल दुवा देने को मजबूर हो जाय.... 

ये भी एक तमाशा है बाज़ार-ए-उलफत मेँ "गालिब" ! दिल किसी का होता है और बस किसी का चलता है !! 

ज़माना आज भी उसकी मिसाल देता है नेकियाँ करके जो दरिया में डाल देता है अपनी भूक का इल्ज़ाम उस खुदा पे न दे, वो माँ के पेट में बच्चे को पाल देता है... 

जिंदगी जब भी अपना पता देती है, इसमें कितना गम हे बता देती है.. भूल कर भी किसी अपनों को नहीं खोना क्यूकी यही वो बात है जो अक्सर रुला देती है..!! 

उसने पुछा मेरे बिन जी लोगे ..?... साँस रुक चुकी थी ,वो समझे हम सोच रहे है .. 

एक खूबसूरत सोच : अगर कोई पूछे जिंदगी में क्या खोया और क्या पाया ... तो बेशक कहना... जो कुछ खोया वो मेरी नादानी थी और जो भी पाया वो रब की मेहेरबानी थी!  खुबसूरत रिश्ता है मेरा और खुदा के बीच में, ज्यादा मैं मांगता नहीं और कम वो देता नहीं 

गुलाम बनकर जिओगे तो कुत्ता समजकर लातमारेगी ये दुनिया... नवाब बनकर जिओगे तो शेर समझ कर सलामठोकेगी ये दुनिया... 

"दम कपड़ों में नहीं,जीगर में रखो, बात कपड़ों में होती तो, सफेद कफन में लीपटा मुर्दा भी "सुलतान मिर्ज़ा" होता....!!! 

क्या बात करे इस दुनिया की" हर शख्स के अपने अफसाने हे"" जो सामने हे उसे लोग बुरा कहते हे" जिसको देखा नहीं उसे सब खुदा कहते है. 

खुद मेँ झाँकने के लिए जिगर चाहिए, दूसरों की शिनाख्त मेँ तो हर शख़्स माहिर है". 

"वक्त के पन्ने पलटकर, फ़िर वो हसीं लम्हे जीने को दिल चाहता है, कभी मुशाकराते थे सभी दोस्त मिलकर, अब उन्हें साथ देखने को दिल तरस जाता है." 

बहुत बिखरा बहुत टूटा थपेड़े सह नहीं पाया हवाओ के इशारो पे मगर मै बह नही पाया अधुरा अनसुना ही रह गया यु प्यार का किस्सा कभी तुम सुन नही पाये कभी मै कह नही पाया

No comments:

Powered by Blogger.