Follow us on Facebook

Ads Top

UNKI BHULI BISHARI WO KESHI YAADE THI


UNKI BHULI BISHARI WO KESHI YAADE THI

उनकी भूली-बिसरी वो कैसी यादें थीं,
यादें क्या थी ख़ुद से मुलाकातें थी,
मन की गहराई में डूबी देखती रही,
सीप में मोती से महँगी उनकी बातें थी !

No comments:

Powered by Blogger.