Follow us on Facebook

Ads Top

KHOYI KHOYI YE ANKHE


खोयी खोयी ये आँखें,
दिन में मदहोश तुम्हें करती है,
रात में, तन्हाई में,
हर रोज़ यह बरसती है !

No comments:

Powered by Blogger.