Follow us on Facebook

जिसे दिल-ओ-जान से चाहा

जिसे दिल-ओ-जान से चाहा

जिसे दिल-ओ-जान से चाहा,
उसे अपना न बना पाया,
अब पूछ रहा है वीराना,
क्या पाया बनके दीवाना ?

जिसे दिल-ओ-जान से चाहा जिसे दिल-ओ-जान से चाहा Reviewed by Bhagyesh Chavda on November 17, 2015 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.